शिवपुरी जिले में बेख़ौफ़ रेत माफिया फोरलेन पर सैकड़ो की तादाद में हथियार लेकर फैलाई दहशत कभी भी घटित कर सकते हैं कोई भी गंभीर अपराध प्रशासन बना मूकदर्शक

शिवपुरी जिले में बेख़ौफ़ रेत माफिया फोरलेन पर सैकड़ो की तादाद में हथियार लेकर फैलाई दहशत कभी भी घटित कर सकते हैं कोई भी गंभीर अपराध प्रशासन बना मूकदर्शक
देखें वीडियो👇👇👇👇null

शिवम पाण्डेय खनियाधाना
शिवपुरी-शिवपुरी जिले में अवैध उत्खनन इन दोनों जोरो पर है वहीं जिला प्रशासन के आला अधिकारी मौन हैं। जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा कार्रवाई नहीं किए जाने के कारण अवैध रेत उत्खननकर्ताओं के हौसले हो गए बुलंद हो चुकी है। सुबह से रात भर दर्जनों से अधिक डम्फर ट्रैक्टर व अन्य वाहनकर्ताओं का मुख्य व्यापार हो गया है। वे अन्य व्यापार छोडकर रेत का अवैध व्यापार करने में लगे हैं। रोजाना खुलेआम पत्थर फर्सी,रेत का परिवहन कार्य में लगे हुए हैं। जिम्मेदार प्रशासन की लापरवाही के कारण अवैध उत्खनन को बढ़ावा मिल रहा है अवेद्युत उत्खनन करने वालों की हौसली इतने बुलंद है कि प्रशासन भी इनके आंगे लाचार प्रतीत हो रहा है

करेरा में चलता है खुलेआम हथियारों की दम पर अवैध उत्खनन अवैध उत्खनन को लेकर माफिया के दो गुट आपस में भिड़ गए फायरिंग को नौबत आ गई

शिवपुरी जिले के करेरा अनुविभाग के अंतर्गत रेत माफियाओ द्वारा खुलेआम सैकड़ो जेसीबी मशीनों से उच्चस्तरीय शह पर करैरा थाना क्षेत्र में मछावली व सुनारी चौकी क्षेत्र में कल्याणपुर उर्फ दबरासानी, रोनिजा, जरगवां, आंदोरा दिहायला, लमकना, कल्याणपुर, चितारी, सोन्हर, सीहोर रेत गांवो में क्षेत्रीय नेताओं और प्रशासनिक अधिकारियों के संरक्षण में बंदूकों के साए में खुलेआम रेत माफिया दम से अवैध उत्खनन हो रहा है शिवपुरी झांसी फोरलेन पर करेरा के टीला इलाके में दिखाई दिए जब एक साथ कई बंदूक धारी खनन माफिया खुलेआम बंदूके लहराते दिखाई दिया। बता जा रहा हैं की अवैध उत्खनन को लेकर माफिया के दो गुट आपस में भिड़ गए। फायरिंग को नौबत आ गई थी। इधर जिला प्रशंसन ने चुप्पी ओढ़ ली हैं।

शिवपुरी जिले के सतनवाड़ा वन परिक्षेत्र में अपवित्र जिम्मदारो ओर माफियाओ का गठबंधन

वन मंडल शिवपुरी की रेंज शिवपुरी के वन बीट आमखो पीपल खाड़ी की घाटी,बम्हारी,डोंगरी में व शिवपुरी में
माधव नेशनल पार्क से लगी अर्जुन गवां खदानकी आड़ में पत्थर मझेरा, मोरई, खेरोना, संरक्षित वन में जमकर फर्शी पत्थर बहुत बड़े स्तर पर एलएनटी मशीनों से अवैध उत्खनन जारी है वन अपराधी इतना बेखौफ हो गए वे खुले में अवैध उत्खनन करने उतारू हो गए हैं। जो कि जिम्मेदार अधिकारियों को चुनोती बना हुआ है
दिन रात अवैध उत्खनन नई नई (जे सी बी, एल & टी) मशीन को जंगल का नाश किया जा रहा है विभागीय अधिकारियों को इसकी सूचना देने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होती है

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

शिवपुरी से चुनाव कौन जीतेगा?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

Bureau Report