नासिक में PM मोदी का रोड शो, कुछ ही देर में करेंगे देश के सबसे लंबे समुद्री पुल का उद्घाटन

मुंबई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज महाराष्ट्र की जनता के बीच हैं। इस दौरान वे राज्य को कई सौगाते देने जा रहे हैं। जिसमें 30,500 करोड़ रुपये से अधिक की विकास परियोजनाओं की सौगात देंगे साथ ही देश के सबसे लंबे समु्द्री पुल का उद्घाटन भी करेंगे। इससे पहले पीएम मोदी का रोड शो नासिक में शुरु हो गया है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज शुक्रवार को महाराष्ट्र के नासिक दौरे पर हैं, जहां पीएम मोदी रोड शो कर रहे हैं। पीएम मोदी के साथ महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणनवीस और अजीत पवार भी हैं। उद्घाटन कार्यक्रम से पहले प्रधानमंत्री मोदी श्री कालारम मंदिर में दर्शन और पूजा-अर्चना करेंगे। इसके बाद पीएम मोदी 27वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव का उद्घाटन करेंगे और फिर प्रदेश में 30,500 करोड़ रुपये से अधिक की विकास परियोजनाओं की शुरुआत करेंगे। शहरी परिवहन अवसंरचना और संपर्क को मजबूत करके लोगों के आवागमन की सुगमता को बढ़ावा देने के अपने दृष्टिकोण के अनुरूप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुंबई ट्रांस-हार्बर लिंक (एमटीएचएल) का उद्घाटन करेंगे, जिसे अब ‘अटल बिहारी वाजपेयी सेवरी-न्हावा शेवा अटल सेतु’ नाम दिया गया है. 17,840 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से इसका निर्माण किया गया है।
समुद्र पर बने देश के सबसे लंबे पुल का आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकार्पण कर रहे हैं। इसकी खासियतें ऐसी हैं की पूरी दुनिया में इस पुल को लेकर चर्चा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिसंबर, 2016 में इस पुल की आधारशिला रखी थी। यह भारत का सबसे लंबा पुल और भारत का सबसे लंबा समुद्री पुल भी है। यह पुल लगभग 21.8 किलोमीटर लंबा छह लेन वाला पुल है, जिसकी लंबाई समुद्र के ऊपर लगभग 16.5 किलोमीटर और जमीन पर लगभग 5.5 किलोमीटर है। यह मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे और नवी मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को सीधा संपर्क प्रदान करेगा और मुंबई से पुणे, गोवा और दक्षिण भारत की यात्रा के समय को भी कम करेगा। इससे मुंबई बंदरगाह और जवाहरलाल नेहरू बंदरगाह के बीच संपर्क में भी सुधार होगा।
अटल सेतु यानी मुंबई ट्रांस हार्बर लिंक मुंबई के सेवरी से शुरू होकर रायगढ़ जिले के उरण तालुका के न्हावा शेवा में समाप्त होता है। अटल सेतु पर कार, टैक्सी, हल्के मोटर वाहन, मिनीबस और टू-एक्सल बसों जैसी गाड़ियों की स्पीड लिमिट 100 किलोमीटर प्रति घंटा होगी। अटल सेतु देश का सबसे बड़ा पुल होने के साथ-साथ कई और विशेषताएं लिए हुए है। सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसमें एफिल टॉवर की तुलना में 17 गुना अधिक स्टील लगा है। और कोलकाता के हाबड़ा ब्रिज से चार गुना स्टील लगा है। उन्होंने बताया कि इसमें जो कंक्रीट इस्तेमाल हुआ है वह अमरिका के स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी से छह गुना ज्यादा है। अटल सेतु इतना मजबूत है कि इस पर भूकंप, उच्च ज्वार और तेज हवाओं के दबाव को कोई असर नहीं होगा। इसका निर्माण एपॉक्सी-स्ट्रैंड्स वाले विशेष मैटेरियल से किया गया है, जिनका उपयोग परमाणु रिएक्टरों के निर्माण के लिए किया जाता है।अटल सेतु मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे और नवी मुंबई हवाई अड्डे को सीधा जोड़ने का काम करेगा। इससे मुंबई से पुणे, गोवा और दक्षिण भारत यात्रा में लगने वाले समय को भी कम करेगा। इससे मुंबई बंदरगाह और जवाहरलाल नेहरू बंदरगाह के बीच ट्रैफिक में भी सुधार होगा।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

शिवपुरी से चुनाव कौन जीतेगा?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

Bureau Report