शहर में बिना लाइसेंस के अवैध रूप से चल रही मीट की दुकानों पर कार्यवाही करने पहुंचा प्रशासन,किसी भी दुकान पर नहीं मिला लाइसेंस

शहर में बिना लाइसेंस के अवैध रूप से चल रही मीट की दुकानों पर कार्यवाही करने पहुंचा प्रशासन,किसी भी दुकान पर नहीं मिला लाइसेंस

शिवपुरी… मुख्यमंत्री डा. मोहन यादव द्वारा प्रदेश में अवैध रूप से संचालित हो रहीं मीट की दुकानों पर कार्रवाई के संबंध में दिए गए निर्देशों केउपरांत जब स्थानीय प्रशासन हरकत में आया तो बड़ा पर्दाफाश हुआ कि शहर में लगभग सभी मीट की दुकानें अवैध रूप से बिना लाइसेंस संचालित हो रही हैं और अवैध रूप से मीट विक्रय किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि स्थानीय प्रशासन ने मीट विक्रय करने वाले दुकानदारों को लाइसेंस लेने के लिए तीन दिन का समय दिया था। सोमवार को शाम पांच बजे जब प्रशासन द्वारा दी गई समय सीमा समाप्त हो गई। उक्त समय सीमा समाप्त होने के उपरांत नगर पालिका से सेनेट्री इंस्पेक्टर योगेश शर्मा, एई सुधीर मिश्रा, भूपेश हरीश शर्मा, राजेश बिरमानी पुलिस फोर्स के साथ शहर में मीट की दुकानों की जांच करने के लिए निकला। इस दौरान बड़ा खुलासा यह हुआ कि एक भी दुकानदार पर मीट की दुकान संचालित करने का लाइसेंस नहीं
मिला। इस हिसाब से शहर में मीट, मछली विक्रय करने का जितना भी कारोबार हो रहा है वह पूर्णतः अवैध रूप से संचालित हो रहा है। नगर
पालिका के अमले ने मीट की दुकान संचालित करने वाले इन दुकानदारों को स्पष्ट रूप से मंगलवार तक की हिदायत देते हुए समझाइश दी है कि अगर कल तक आन लाइन लाइसेंस एप्लाई नहीं किया तो वह दुकानों पर स्वतः ताले लटका दें, अन्यथा उन्हें कार्रवाई की जद में लिया जाएगा। इस कार्रवाई के दौरान सिर्फ एक दुकानदार का 300 रुपये का चालान काटा गया कार्रवाई के दौरान दुकानदारों ने एक दिन का समय मांगा।

नगरपालिका के अधिकारियों ने बताया कि शर्तों के अनुसार ही कारोबार किया जा सकेगा। अगर निर्धारित नियमों ओर स्थान से बाहर सार्वजनिक स्थान पर कोई दुकानदार मीट की दुकान का
संचालन करेगा तो उस पर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी। अधिकारियों का कहना है कि बाजार में यहां वहां खुली दुकानों को भी बंद करवाया जाएगा। इस कार्रवाई के दौरान भी थीम रोड़ पर एक दुकान को बंद करवाया गया है।
कितने लाइसेंस थे इस संबंध में नपा के जिम्मेदारों का कहना है कि अभी तक तो कोई लाइसेंस सामने नहीं आया है। अब लाइसेंस जारी होने के बाद यह तय हो पाएगा कि कितनी दुकाने अवैध रूप से चल रही है और कितनी दुकानें वैधानिक प्रक्रिया का पालन करते हुए संचालित क जा रही है। इस संबंध में हमने लाइसेंस के आवेदन के लिए जो समय सीमा निर्धारित की थी वह आज शाम पांच बजे खत्म हो गई है। अभी तक 48 आवेदन आ चुके और आवेदन की प्रक्रिया लगातार जारी है। इस संबंध में योगेश शर्मा, सेनेट्री इंस्पेक्टर नपा का कहना है कि अभी तक शहर में मीट की दुकान का कोई लाइसेंस नहीं मिला है। अगर अब कोई भी दुकानदार निर्धारित स्थान या मीट मार्केट के अन्यत्र बिना लाइसेंस मीट बेचते हुए पाया गया तो उनके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

शिवपुरी से चुनाव कौन जीतेगा?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

Bureau Report