बीच रोड से बदमाशों ने दो छात्रों के अपहरण का किया प्रयास,पुलिस कर रही इस तरह की घटना से इंकार सुरवाया थाने का मामला

बीच रोड से बदमाशों ने दो छात्रों के
अपहरण का किया प्रयास,पुलिस कर रही इस तरह की घटना से इंकार
सुरवाया थाने का मामला

शिवपुरी…. सुरवाया थानांतर्गत ग्राम करई डांडा में दो कार में सवार होकर आए कुछ लोगों ने स्कूल से घर लौट रहे छात्रों के अपहरण का प्रयास किया। बच्चों के अनुसार वह किसी तरह उन लोगों के कब्जे से छूट कर भागे। मामले की शिकायत पुलिस को दर्ज कराई गई है, हालांकि पुलिस अपहरण के प्रयास जैसी किसी भी घटना से इंकार कर रही है।

जानकारी के अनुसार 07 दिसंबर की शाम शासकीय शासकीय माध्यमिक विद्यालय करई की छुट्टी हुई तो बच्चे अपने-अपने घर जा रहे थे, इस क्रम में कक्षा 8वीं में अध्यनरत बच्चे करईडांडा निवासी बलवीर पुत्र नंदकिशोर कुशवाह व रविन्द्र पुत्र जगदीश गुर्जर एक सायकल पर सवार होकर अपने गांव जा रहे थे, इसी दौरान दिलशाद होटल के पास दो कारों में सवार होकर आए कुछ लोगों ने दोनों बच्चों को रोक कर पकड़ लिया। वह दोनों बच्चों को गाड़ी में बिठाने का प्रयास करने लगे तो बच्चों ने इसका विरोध किया। बलवीर के दादा जगदीश कुशवाह का कहना है कि इस पर लोगों ने बच्चों की मारपीट भी की जिससे बलबीर के पैर में चोट आई। इसी क्रम में जब कथित बदमाशों ने बच्चों को नहीं छोड़ा तो बच्चों ने उन्हें दांतों से काट लिया। जैसे ही उक्त लोगों की पकड़ ढीली हुई तो दोनों बच्चे उनके कब्जे से भाग कर फूलों
के पेड़ों के बीच जाकर छिप गए। पीड़ित बलवीर के अनुसार बदमाशों ने उनका पीछा किया, लेकिन जब वह उन्हें नजर नहीं आए तो वह उनकी सायकल को अपनी गाड़ी में डालकर वहां से चले गए। इसके बाद दोनों बच्चे गांव पहुंचे और पूरा घटनाक्रम अपने स्वजनों को बताया। जगदीश कुशवाह के अनुसार वह बच्चों को लेकर सबसे पहले सुरवाया थाने पहुंचा और मामले की शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने दोनों बच्चों के बयान दर्ज किए और इसके बाद घटना स्थल पर जाकर देखा। बलवीर का उपचार किसी चिकित्सक से करवाया गया। इस घटना के बाद स्कूल के स्टाफ और अभिभावकों में दहशत की स्थिती निर्मित हो गई है।
घटना के बाद दोनों बच्चे स्कूल तक नहीं गए हैं। वहीं पुलिस पूरे घटनाक्रम को नकार रही है।

मैंने बच्चों को साथ ले जाकर मामले
की शिकायत पुलिस को दर्ज करवा
दी थी, इसके बाद पुलिस ने क्या कार्रवाई
की क्या नहीं की, इसकी कोई जानकारी
हमें नहीं है। हमारी शिकायत के निराकरण के संबंध में हमें कोई जवाब पुलिस की ओर से नहीं मिला है।
– जगदीश कुशवाह, अभिभावक

संभवत बच्चे गाड़ी के सामने आ गए होंगे जिस पर बच्चों को चांटा मार दिया था।
इसमें बच्चों के अपरहण के प्रयास जैसी
कोई बात नजर नहीं आ रही है और न ही
ऐसा किसी भी स्थिती में संभव है।
-रामेन्द्र चौहान, सुरवाया थाना प्रभारी

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

शिवपुरी से चुनाव कौन जीतेगा?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

Bureau Report