बेर समझ बच्चों ने खाए रतनजोत के बीज,9 की हालत बिगड़ी,सभी जिला अस्पताल में भर्ती

बेर समझ बच्चों ने खाए रतनजोत के बीज,9 की हालत बिगड़ी,सभी जिला अस्पताल में भर्ती


शिवपुरी….।
पोहरी अनुविभाग के शासकीय माध्यमिक विद्यालय परिच्छा अध्यनरत कई बच्चों ने शनिवार की दोपहर स्कूल के पास लगे रतनजीत के बीज खा लिए। बच्चों की हालत बिगड़ने पर उनके स्वजन उन्हे उपचार के लिए जिला लेकर पहुंचे। फिलहाल बच्चों की हालत स्थिर बनी हुई है, लेकिन उन्हें उल्टियां लगातार हो रही हैं।

जानकारी के अनुसार परिच्छा गांव के सरकारी स्कूल में छात्र रोजाना की तरह शनिवार को भी स्कूल में पढ़ने के लिए गए थे। इसी दौरान मध्याह्न भोजन करने के बाद बच्चे खेलते-खेलते स्कूल परिसर के बाहर चले गए। वहां उन्होंने झाड़ी में लगे रतनजोत के बीज खा लिए। लंच खत्म होने के उपरात वह वापस स्कूल आए और पढ़ाई की स्कूल की छुट्टी के बाद जब बच्चे घर पहुंचे तो देर शाम एक-एक कर गांव के लगभग सभी बच्चों की तबीयत बिगड़ना शुरू हो गई किसी बच्चे के पेट में दर्द शुरू हो गया तो किसी ने उल्टियां करना शुरू कर दो कई बच्चों को दस्त होने लगे। इसके बाद स्वजन अपने-अपने साधनों से एक-एक कर बच्चों को जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। बच्चों को उपचार के लिए पीआईसीयू में भर्ती कराया गया। जिला अस्पताल पहुंचने वाले बच्चों में कक्षा पांच के छात्र गौरव पुत्र रामदास जाटव, रचि पुत्र विमल जाटव, कक्षा तीन का छात्र गणेश पुत्र विमल जाटव, कक्षा आठ की छात्रा सोनम पुत्री विमल जाटव, कक्षा चार की छात्रा शिवानी पुत्री शिवली जाटव, कक्षा एक के छात्र दामो पुत्र विमल जाटव, आर्पित पुत्र रामदास जाटव, रागिनी पुत्री राजपूत जाटव व कक्षा तीन की छात्रा चांदनी पुत्री राजपूत जाटव शामिल हैं। ग्रामीणों का कहना है कि गांव में कई अन्य बच्चों की तबीयत खराब है और उन बच्चों को भी उनके स्वजन उपचार के लिए लेकर आए हैं।।

गांव में चर्चा फैली की स्कूल में मिलने वाला खाना दूषित है
जब गांव में एक साथ स्कूल गए सभी को उल्टिया दस्त और पेट दर्द होना शुरू हुआ तो गांव में यह चर्चा फल गई कि जो बच्चे आज स्कूल गए ये वह
सभी बच्चे एक-एक करके बीमार हो रहे हैं। गांव वालों को प्रथम दृष्टया लगा दूषित होने की फैली चर्चा कि आज स्कूल में बच्चों ने जो खाना खाया था यह खाना दूषित था। उसी मध्यान्ह भोजन को खाने से बच्चों की तबीयत खराब हुई है। लेकिन बाद में बच्चों ने रतनजीत के बीज खाने की बात बताई।

जब बीमार छात्रों से बात की गई तो उनका बताया कि उन्हें पता नहीं था कि यह क्या है । शिवानी के अनुसार लंच टाइम में खाना खाने के बाद सभी बच्चे रोड की तरफ चले गए. यहां उन्हें झाड़ियों में बेर जैसे लगे दिखे । तो सभी बच्चों ने उन बेरों को खाना शुरू कर दिया। कुछ देर बाद बच्चों की तबियत बिगड़ना शुरू हो घर आकर हम सभी को उल्टी होने लगी

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

शिवपुरी से चुनाव कौन जीतेगा?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

Bureau Report