आखिर क्यो केपी सिंह को दबंग बता रहे हैं देवेंद्र जैन और खुद को बता रहे है विनम्र दबंग v/s विनम्र के शहर भर में लगवाए पोस्टर

आखिर क्यो केपी सिंह को दबंग बता रहे हैं देवेंद्र जैन और खुद को बता रहे है विनम्र

दबंग v/s विनम्र के शहर भर में लगवाए पोस्टर

जैन बंधुओं की दबंगई के आगे फीके हैं के पी सिंह

शिवपुरी
विधानसभा चुनाव धीरे धीरे अपने पूरे शबाब पर आ रहे हैं तो आरोप प्रत्यारोप की बौछार होना बहुत ही मामूली सी बात है। चुनावों में खुद के लाभ के लिए प्रत्याशी एक दूसरे को खराब छवि को जनता के सामने रखकर अपने लिए वोट मांगते हैं। ऐसा ही एक मामला कुछ दिनों पहले भी देखा था जब जितेंद्र जैन गोटू ने शिवपुरी से टिकट के लिए कांग्रेस की सदस्यता ली थी। और भोपाल से सीधे शिवपुरी आकर क्षेत्रीय नेत्री के ऊपर जोरदार हमला करते हुए आरोप लगाते हुए कहा था कि काले चश्में में से भ्रष्टाचार नहीं दिखता है। सिर्फ कमीशन का कितना पैसा खाने को मिल रहा है ये दिखता है।
देखें वीडियो

हालांकि इस सब हथकंडों के बाबजूद भी जितेंद्र जैन गोटू को कांग्रेस ने टिकिट नही दिया। अब शिवपुरी से उनके बड़े भाई देवेंद्र जैन को भाजपा ने उम्मीदवार बना दिया तो उनके चुनाव की कमान संभाल रहे हैं। खैर छोड़िए इन सब बातों को आज हम आपको एक अहम खबर के बारे में बताने जा रहे हैं जो आजकल शिवपुरी विधानसभा के चुनाव में देखने को मिल रही है। दरअसल शिवपुरी से भाजपा ने कोलारस से लगातार दो बात बड़े अंतर से चुनाव हार चुके देवेंद्र जैन को अपना प्रत्याशी बनाया है जिनकी शिवपुरी नगर पालिका चुनाव में जमानत भी जब्त हो गई थी। दूसरी तरफ कांग्रेस ने पिछोर के लगातार 6 बार से विधानसभा चुनाव। जीतते चले आ रहे केपी सिंह को अपना उम्मीदवार घोषित किया है।
दोनो का ट्रैक रिकॉर्ड एक दूसरे के बिल्कुल विपरीत है। और रिकॉर्ड के आधार पर देवेंद्र जैन केपी सिंह से जीतने के मामले में बहुत पीछे हैं। इसलिए अब देवेंद्र जैन की सलाहकार मंडली ने शुरू से ही शिवपुरी में केपी सिंह की डरावनी छवि लोगों के बीच बनानी शुरू कर दी है।
देखें वीडियो

देवेंद्र जैन ने अपना नामांकन जमा करते वक्त भी मीडिया को दिए अपने वक्तव्य में कहा था कि वे शहर को भय मुक्त बनाना चाहते हैं। और उन्होंने अपने जवाब में कांग्रेस प्रत्याशी और उनकी छवि की और स्पष्ट इशारा भी किया था।
दूसरी तरफ देवेंद्र जैन द्वारा शहर भर में जो पोस्ट लगाए हैं उनमें लिखा है आपको क्या चाहिए विनम्र या दबंग। ये पोस्टर शहर भर में चर्चा का विषय बन हुए हैं। लोगो का मानना है की देवेंद्र जैन इस चुनाव को खुद की कोई उपलब्धि या किसी काम को बताकर जीतने की जगह कांग्रेस प्रत्याशी केपी सिंह की छवि को खराब बताकर जीतना चाहते हैं।
इसके अलावा पिछले दिनों शहर में अचानक क्रिएट हुआ क्रांतिकारी गाथा नामक फेसबुक पेज पर देवेंद्र जैन के सपोर्ट ने केपी सिंह की भयानक छवि को दर्शाते हुए एक पोस्टर रिलीज किया गया जिसमे केपी सिंह के बैकग्राउंड में एक डरी हुई लड़की का फोटो वायरल किया गया। जिसपर केपी सिंह समर्थको को खासी आपत्ति हुई है। सुनने में आया है की उक्त पेज देवेंद्र जैन का सोशल मीडिया काम देखने वाले लोगों ने केपी सिंह की छवि बिगाड़ने के लिए बनाया था जिसे फिलहाल हाइड कर दिया गया। लेकिन सूचना मिली है की केपी सिंह की तरफ से इस मामले की शिकायत की जा सकती है।
एक तरफ देवेंद्र जैन द्वारा लगातार कांग्रेस प्रत्याशी की छवि खराब कर जीत का रास्ता तय करने की जुगाड लगाई जा रही है तो वहीं दूसरी तरफ पिछोर विधायक द्वारा अपने सभी कार्यकर्ताओं को विनम्र होकर जनता से वोट अपील करने का फरमान सुनाया गया है।

रही बात दबंगी की जैन बंधु केपी सिंह से इस मामले में कहीं ज्यादा आगे हैं। वरना जितेंद्र जैन यूं ही भरे मंच से काला चश्मा न चिल्ला पाते।
और वहीं इसके विपरीत आज के पी सिंह से प्रेस वार्ता का आयोजन किया था उनसे जब इस बारे में सवाल किया तो उन्होंने इस इसके बारे में बोलने से मना कर दिया और कहा ये उनकी सोच है । अब आप ही बता सकते है कौन विनम्र है और कौन दबंग । क्योंकि चुनावों में जनता ही फैसला करती है की वो किस प्रत्याशी को चुनना चाहती है

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

शिवपुरी से चुनाव कौन जीतेगा?

View Results

Loading ... Loading ...

आज का राशिफल देखें 

Bureau Report